बुधवार, 20 मार्च 2019

नमामि गंगे के तहत गंगा नदी पर चल रहे विभिन्न प्रोजेक्ट्स व उनकी प्रगति

📎 जनवरी 2019 तक के आंकड़ों के अनुसार गंगा सफाई अभियान के तहत चल रहे विभिन्न प्रोजेक्ट की प्रोग्रेस रिपोर्ट :
🙌 सीवेज इंफ्रास्ट्रक्चर :
📌 सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट : 141 प्रोजेक्ट
🖇️ लागत : 21416.06 करोड़ रुपए
🖇️ पूरे हुए प्रोजेक्ट की संख्या : 35
🖇️ प्रगति पर प्रोजेक्ट की संख्या : 61
🖇️ टेंडर प्रक्रिया के तहत प्रोजेक्ट की संख्या : 36
🖇️ AA & ES जारी : 9
👉 कुल व्यय : 3999.49 करोड़ रुपए
📌 मॉड्यूलर एसटीपी विकेन्द्रीकृत ट्रीटमेंट : 1 प्रोजेक्ट
🖇️ लागत : 410 करोड़ रुपए
🖇️ टेंडर प्रक्रिया के तहत प्रोजेक्ट की संख्या : 1
🙌 एंट्री लेवल एक्टिविटीज :
📌 घाट और शवदाह गृह निर्माण : 59 प्रोजेक्ट
🖇️ लागत : 921.78 करोड़ रुपए
🖇️ पूरे हुए प्रोजेक्ट की संख्या : 31
🖇️ प्रगति पर प्रोजेक्ट की संख्या : 26
🖇️ टेंडर प्रक्रिया के तहत प्रोजेक्ट की संख्या : 2
👉 कुल व्यय : 548.39 करोड़ रुपए
📌 रिवर फ्रंट डेवलपमेंट : 1 प्रोजेक्ट (निर्माण पूरा हो गया)
🖇️ लागत : 243.27 करोड़ रुपए
👉 कुल व्यय : 243.74 करोड़ रुपए
📌 घाट सफाई : 3 प्रोजेक्ट
🖇️ लागत : 43.87 करोड़ रुपए
🖇️ प्रगति पर प्रोजेक्ट की संख्या : 2
🖇️ टेंडर प्रक्रिया के तहत प्रोजेक्ट की संख्या : 1
👉 कुल व्यय : 10.52 करोड़ रुपए
📌 नदी सतह की सफाई : 1 प्रोजेक्ट
🖇️ लागत : 33.53 करोड़ रुपए
🖇️ प्रगति पर प्रोजेक्ट की संख्या : 1
👉 कुल व्यय : 5.84 करोड़ रुपए
🙌 इंस्टीट्यूशनल डेवलपमेंट (नॉन इंफ्रस्ट्रक्चर) :
📌 गंगा नॉलेज सेंटर : 4 प्रोजेक्ट
🖇️ लागत : 135.78 करोड़ रुपए
🖇️ पूरे हुए प्रोजेक्ट की संख्या : 1
🖇️ प्रगति पर प्रोजेक्ट की संख्या : 3
👉 कुल व्यय : 23.27 करोड़ रुपए
📌 गंगा मॉनिटरिंग सेंटर : 1 प्रोजेक्ट
🖇️ लागत : 46.69 करोड़ रुपए
🖇️ प्रगति पर प्रोजेक्ट की संख्या : 1
📌 सीपीसीबी (1. गंगा नदी पर प्रदूषण खोज, आकलन और निगरानी, 2. पर्यावरण नियामक को सुदृढ़ बनाना, 3. गंगा नदी के लिए जल गुणवत्ता निगरानी प्रणाली, 4. प्रयोगशालाओं को सुदृढ़ बनाना 5. निरीक्षण और
उद्योगों के एसटीपी और सीईटीपी की निगरानी, 6. मौजूदा सीईटीपी के बुनियादी ढांचे का अपग्रेडेशन) : 12 प्रोजेक्ट
🖇️ लागत : 901.56 करोड़ रुपए
🖇️ पूरे हुए प्रोजेक्ट की संख्या : 0
🖇️ प्रगति पर प्रोजेक्ट की संख्या : 10
🖇️ टेंडर प्रक्रिया के तहत प्रोजेक्ट की संख्या : 2
👉 कुल व्यय : 41.99 करोड़ रुपए
📌 जिला गंगा कमेटी : 1 प्रोजेक्ट
🖇️ लागत : 2.30 करोड़ रुपए
🖇️ प्रगति पर प्रोजेक्ट की संख्या : 1
🙌 परियोजना कार्यान्वयन सहायता/अनुसंधान और अध्ययन परियोजनाएं
📌 कुल प्रोजेक्ट : 6
🖇️ लागत : 126.72 करोड़ रुपए
🖇️ पूरे हुए प्रोजेक्ट की संख्या : 2
🖇️ प्रगति पर प्रोजेक्ट की संख्या : 3
🖇️ AA & ES जारी : 1
👉 कुल व्यय : 7 करोड़ रुपए
🙌 जैव विविधता :
📌 गंगा नदी की डॉल्फिन के आवास के संरक्षण के लिए स्कूलों और समुदायों को शिक्षित करना : 1 प्रोजेक्ट
🖇️ लागत : 1.28 करोड़ रुपए
🖇️ पूरे हुए प्रोजेक्ट की संख्या : 1
👉 कुल व्यय : 1.11 करोड़ रुपए
📌 उपयुक्त संरक्षण और बहाली योजना के विकास के लिए गंगा नदी की मछली और मत्स्यपालन का मूल्यांकन : 3 प्रोजेक्ट
🖇️ लागत : 7.31 करोड़ रुपए
🖇️ पूरे हुए प्रोजेक्ट की संख्या : 1
🖇️ प्रगति पर प्रोजेक्ट की संख्या : 2
👉 कुल व्यय : 3.86 करोड़ रुपए
📌 जैव विविधता संरक्षण : 2 प्रोजेक्ट
🖇️ लागत : 24.83 करोड़ रुपए
🖇️ प्रगति पर प्रोजेक्ट की संख्या : 2
👉 कुल व्यय : 16.86 करोड़ रुपए
🙌 वनीकरण :
📌 कुल प्रोजेक्ट : 16
🖇️ लागत : 236.56 करोड़ रुपए
🖇️ पूरे हुए प्रोजेक्ट की संख्या : 10
🖇️ प्रगति पर प्रोजेक्ट की संख्या : 6
👉 कुल व्यय : 133.66 करोड़ रुपए
🙌 समग्र पारिस्थितिक कार्य बल :
📌 कुल प्रोजेक्ट : 2
🖇️ लागत : 167.63 करोड़ रुपए
🖇️ प्रगति पर प्रोजेक्ट की संख्या : 2
👉 कुल व्यय : 30.58 करोड़ रुपए
🙌 जैविक उपचार
📌 कुल प्रोजेक्ट : 12
🖇️ लागत : 210.94 करोड़ रुपए
🖇️ प्रगति पर प्रोजेक्ट की संख्या : 9
🖇️ टेंडर प्रक्रिया के तहत प्रोजेक्ट की संख्या : 1
🖇️ AA & ES जारी : 2
🙌 गंगा नदी के पास ग्राम पंचायतों में IHHL का निर्माण
📌 उत्तराखंड, यूपी, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल में : 1 प्रोजेक्ट
🖇️ लागत : 1426.26 करोड़ रुपए
🖇️ प्रगति पर प्रोजेक्ट की संख्या : 1
👉 कुल व्यय : 1020 करोड़ रुपए
📈 जनवरी 2019 तक गंगा नदी पर चल रहे कुल प्रोजेक्ट, निर्माण स्थिति, व व्यय इत्यादि की प्रोग्रेस रिपोर्ट
📌 कुल प्रोजेक्ट्स : 267
🖇️ लागत : 26356.44 करोड़ रुपए
🖇️ पूरे हुए प्रोजेक्ट की संख्या : 81
🖇️ प्रगति पर प्रोजेक्ट की संख्या : 131
🖇️ टेंडर प्रक्रिया के तहत प्रोजेक्ट की संख्या : 43
🖇️ AA & ES जारी : 12
👉 कुल व्यय : 6086.31 करोड़ रुपए
प्रधानमंत्री मोदी ने गंगा को प्रदूषण मुक्त करने का अपना वादा निभाया, आज मां गंगा की निर्मलता, अविरलता को 2019 कुम्भ में करोड़ों श्रद्धालुओं ने महसूस किया है. 
---------------------

अभिजीत श्रीवास्तव की फेसबुक वाल से साभार