बुधवार, 20 मार्च 2019

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के दो साल की रिपोर्ट

उत्तर प्रदेश में सफलता से 2 वर्ष पूर्ण करने वाली भाजपा सरकार ने स्वच्छ्ता, शिक्षा, कृषि, बुनियादी सुविधाओं, आवास और कानून व्यवस्था सहित सभी क्षेत्रों में विकास के नए मानक गढ़े हैं। उत्तर प्रदेश देश का उत्तम प्रदेश बनने की दिशा में अग्रसर हुआ है।
पूर्व की अखिलेश सरकार में 4 जिलों में ही बिजली पाने वाला उत्तर प्रदेश, अब बिना किसी भेदभाव के तय शिड्यूल के अनुसार बिजली पा रहा है। सभी जिला मुख्यालयों को 24 घंटे, तहसील मुख्यालयों को 20 घंटे और गांवों को 18 घंटे बिजली मिल रही है।
आजादी के 70 साल बाद भी करीब 1 करोड़ अंधेरे घरों और 1.21 लाख अंधेरे मजरों को बिजली न दे पाने वाला प्रदेश, आज 'ऊर्जावान उत्तम प्रदेश' है। पीएम श्री नरेन्द्र मोदी और प्रदेश सीएम श्री योगी के नेतृत्व में प्रदेश में रिकॉर्ड 21 माह में हर घर, हर मजरे में बिजली पहुंची है।
पूर्व की सरकारों से विरासत में मिली जर्जर विद्युत आपूर्ति व्यवस्था को भाजपा सरकार ने सुदृढ़ किया है। 33/11 KV क्षमता के 464 नए उप केंद्र शुरू किए गए हैं व 792 की क्षमता बढ़ाई गई है। 132 KV से 765 KV क्षमता तक के कुल 68 नए पारेषण उप केंद्र भी बनाए गए हैं।
सबको बिजली, पर्याप्त बिजली, निर्बाध बिजली देने के उद्देश्य से प्रदेश की पारेषण क्षमता को 16,348 MW से बढ़ाकर 22,000 MW किया गया है। विद्युत पारेषण नेटवर्क की कुल आयात क्षमता (टीटीसी) को भी 8,700 MW से बढ़ाकर 10,700 मेगावाट किया गया है।
पूर्व सरकारों के अराजक शासन में प्रदेश की छवि खराब कानून व्यवस्था वाले राज्य की बन गई थी। भाजपा सरकार ने प्रदेश में कानून का राज स्थापित कर इस छवि को बदला है। अब अपराधियों को राजनीतिक संरक्षण नहीं है। 3500 मुठभेड़ में 73 अपराधी ढेर हुए हैं और 8000 से ज्यादा गिरफ्तार हुए हैं।
प्रदेश के गन्ना किसानों को भाजपा सरकार ने 2 वर्ष में रिकॉर्ड 57,578 करोड़ रुपए का भुगतान किया है। इस भुगतान में पूर्व सरकारों में वित्तीय वर्ष 2011-12 से 2017-18 के दौरान लंबित रहे गन्ना किसानों के बकाए का भुगतान भी शामिल है।
पीएम श्री नरेन्द्र मोदी व प्रदेश सीएम श्री योगी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश खुले में शौच से मुक्त (ODF) राज्य बना है। स्वच्छ भारत मिशन के तहत 2 वर्ष में रिकॉर्ड 2 करोड़ 49 लाख शौचालय प्रदेश में बने हैं,जबकि पूर्व सरकार के अंतिम 2 वर्ष में मात्र 43 लाख शौचालय बने थे।
पिछली सरकार ने 24 महीने में 83 हजार आवासों की स्वीकृति दी जबकि हमारी सरकार ने 23 लाख से ज्यादा आवासों का निर्माण करवाया है।
निराश्रित/बेसहारा गोवंशीय पशुओं से किसानों की फसलों की सुरक्षा एवं इन पशुओं के भी समुचित रख-रखाव एवं भरण-पोषण/प्रबन्धन भाजपा सरकार ने सुनिश्चित किया है।
पूर्व में प्रदेश में जहाँ केवल 02 नियमित हवाई अड्डे थे, अब 6 हवाई अड्डों से नियमित हवाई सेवा उपलब्ध है और 8 हवाई अड्डों के विकास के साथ ही जेवर में विश्वस्तरीय एयरपोर्ट की स्थापना हो रही है।
पिछली सरकार की योजना से 10 मीटर अधिक चौड़ा लेकिन पूर्व की अनुमानित लागत से इस बार लगभग 22 प्रतिशत कम लागत से पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे बनाया जा रहा है।
‘बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे’ बनाने के साथ ही मेरठ से प्रयागराज तक को जोड़ने के लिये 600 कि0मी0 लंबा गंगा एक्सप्रेस-वे बनने के लिए भी कैबिनेट ने सैद्धांतिक सहमति दे दी है।
आदरणीय प्रधानमंत्री जी के मार्गदर्शन में हुए यूपी इन्वेस्टर्स समिट कार्यक्रम में 1,045 एम.ओ.यू. हस्ताक्षरित हुए और 4.68 लाख करोड़ से अधिक के पूंजी निवेश के प्रस्ताव मिले, जो प्रदेश के लिए गौरव की बात है।
आस्था और विश्वास के इस संगम को विश्व पटल पर उतारने वाले आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के साथ से ही प्रयागराज कुम्भ-2019 का भव्य आयोजन संभव हो सका, और इसकी सफलता ने नए प्रतिमान स्थापित किये।

अभिजीत श्रीवास्तव की फेसबुक वाल से साभार 
.