गुरुवार, 28 मार्च 2019

योगी योगी किये जा उत्तर प्रदेश में जिये जा

#कांगी_रहमानी_कीड़े_का_इलाज़!!
एक थोड़ा पुराना किस्सा है आज का छत्तीसगढ़ तब मध्यप्रदेश का ही भाग था और छत्तीसगढ़ के जिला बिलासपुर की एक विधानसभा है #तखतपुर.....!
तखतपुर के उस समय विधायक हुआ करते थे #ताहिर_भाई..... अब कांग्रेस को हमेसा से गुंडों, लुच्चों, चोर उचक्कों से प्यार रहा तो ताहिर मियां का भी बैकग्राउंड वैसा ही था..... विधायक बनने के बाद भी ताहिर मियां का चोर उचक्कों को संरक्षण जारी रहा ..... उनकी सिफारिस को थाने जाना उन्ह छुड़वा लेना रोज की बात थी!!
ताहिर भाई की विधायकी और गुंडई मज़े से चल रही थी तभी कहानी में ट्विस्ट आया तखतपुर थाने में एक नया थानेदार चम्बल के इलाके से ट्रांसफर होकर पहुंच गया...... नई जगह जॉइन किये दो चार दिन हुए थे उसने एक  जेब कतरे को उठा लिया और बंद कर दिया.... थाने के पुराने स्टाफ ने समझाया के साब ये तो ताहिर भाई का आदमी है..... उसने कहा होगा साला चोर है तो जेल जाएगा.......!
शाम को पहुंच गए ताहिर भाई थाने और सारे पुलिस वालों और नए थानेदार को गरियाने लगे.... थानेदार ने विधायक ताहिर भाई को आराम से अंदर बैठाया और चोर को छोड़ देने का आदेश दिया ...... चोर छोड़ दिया गया और जब ताहिर भाई विजयी मुस्कान के साथ जाने लगे तो थानेदार ने कहा...... विधायक जी आपके कहने पर चोर तो छोड़ दिया अब हम लोग रात भर क्या करेंगे??
विधायक पलट के बोल... क्या मतलब?
अगला जवाब थानेदार ने मुंह की जगह अपने झन्नाटेदार थप्पड़ से दिया....!
ताहिर मियां औंधे मुंह जमीन पर गिरे और साथ आये समर्थक भाग खड़े हुए..... थानेदार बोला "भोई वाले चोर छुड़वा दिया अब कूटने को कोई तो चाहिए........ अब उसकी जगह तुझे तोड़ेंगे"
तखतपुर थाने के प्रांगण में तब एक बड़ा पेड़ हुआ करता था सायद बरगद का (अब है या नहीं पता नहीं) उस पेड़ पर लटका कर ताहिर भाई की अगले तीन चार घंटे बेहतरीन तुड़ाई पुलिस वालों ने की........... इतना भरपूर प्यार दिया के ताहिर भाई की एक टांग टूट गयी और चाल हमेसा के लिए बदल गयी....... खैर इस सबक के बाद विधायक ताहिर भाई ने फिर कभी किसी पुलिस के सिपाही से भी ऊंची आवाज में बात नहीं की........
ताहिर मियां जिंदा हैं या उनका फातिहा पढ़ गया मुझे नहीं पता..... अगर मित्र सूची में बिलासपुर के कोई मित्र हों तो जरूर बताएं....
अब बात इस कहानी में ताहिर भाई की सबसे बड़ी गलती की........ उनकी सबसे बड़ी गलती थी के उन्हों ने नए थानेदार को भी पुराने वाले जैसा ही समझा...... पर वो बंदा अलग था... अलग मिट्टी का बना हुआ.... तोड़ दीं टाँगे, घमंड और गुंडई सब एक साथ.....!
कांग्रेस्सियों की पूरी जमात की जात वही ताहिर मियां वाली ही है आज भी..... सब के सब वही उल्टा चोर कोतवाल या चौकीदार को डाटे वाले हैं और इनका वही इलाज़ हैं जो आज कल मोदी जी कर रहे हैं जो उन्होंने कल संसद में बताया...... वही इलाज़ जो तखतपुर के विधायक का हुआ था....!
और कांगिये आज भी गलती भी ताहिर मियां वाली ही कर रहे हैं उन्ह अच्छे से समझ लेना चाहिए #थानेदार_बदल_गया_है ये 2004 वाले अटल जी नहीं जो पप्पू पगलेट को अमेरिका में छुड़वा दें...... ये मोदी है हर चोर के नीचे से डंडा घुसेडेगा मुंह से सच और आंखें दोनों बाहर आजायेंगे, लंदन दुबई कहीं बैठ जाओ घसीट कर लाया जाएगा और तिहाड़ में उल्टा लटकाया जाएगा....
ये नए भारत का नया नेतृत्व है...... हर चोर उचक्के को औकात में रहना सीखना होगा!
लेखक: अजय सिंह